Breaking News
Home / Uttarakhand News / विधायक हरबंस कपूर का निधन एक युग का अंतः स्पीकर प्रेमचंद अग्रवाल

विधायक हरबंस कपूर का निधन एक युग का अंतः स्पीकर प्रेमचंद अग्रवाल

देहरादून । बीजेपी के वरिष्ठ नेता, विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष व मौजूदा विधायक हरबंस कपूर के निधन पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने गहरा शोक व्यक्त किया है। श्री अग्रवाल ने कहा कि सभी के मार्गदर्शक रहे हरबंस कपूर का निधन एक युग का अंत है इस अपूरणीय क्षति को भर पाना मुमकिन नहीं है। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा है कि आज हमने राजनीति एवं समाज की सेवा में अग्रणी रहने वाले एक धरोहर को खो दिया है। उनकी गणना हमेशा सक्रिय रहने वाले विधायकों में थी। वह वंचित वर्गों की आवाज मुखर करने वाले तथा अपने विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए सतत संघर्षरत रहने वाले जनसेवक थे।
श्री अग्रवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड में विधायक रहे कपूर साहब ने विभिन्न पदों पर रहकर अपनी जिम्मेदारियों का ईमानदारी एवं कर्तव्य निष्ठा से निर्वहन कियाद्य वह पक्ष एवं विपक्ष दोनों के लिए ही एक प्रिय नेता थे। अग्रवाल ने कहा कि संसदीय प्रक्रिया के गहन जानकार और हमेशा लोक महत्व के अविलंबनीय मुद्दों को सदन में उठाने वाले एक सजग प्रहरी का निधन उत्तराखंड के लिए  अपूरणीय क्षति है। श्री अग्रवाल ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष रहते हुए उन्होंने हमेशा संसदीय परंपराओं का निर्वहन किया, उनकी बेदाग छवि, हंसमुख मुस्कान एव समाज के लिए कुछ कर गुजरने का जज्बा हमारे लिए हमेशा प्रेरणा स्रोत का कार्य करेगा। विधानसभा अध्यक्ष ने दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है तथा शोक संतप्त परिवारजनों को इस दुरूख की इस घड़ी में धैर्य प्रदान करने की कामना की है।
विधानसभा परिसर में आयोजित शोक सभा के दौरान विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल एवं विधानसभा के अधिकारियों द्वारा हरबंस कपूर के विधानसभा अध्यक्ष के कार्यकाल से जुड़े संस्मरण भी साझा किए गए। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि कपूर साहब से उनके बहुत पुराने पारिवारिक संबंध थे, उन्होंने हमेशा एक मार्गदर्शक एवं बड़े भाई की भांति उनका साथ दिया। श्री अग्रवाल ने कहा कि उत्तराखंड की राजनीति का एक वट वृक्ष जैसा व्यक्तित्व हमारे बीच नहीं रहा, उनका जाना राज्य, संगठन एवं जनता के लिए अपूरणीय क्षति है। श्री अग्रवाल ने कहा कि विधान सभा अध्यक्ष के रूप में उनका मार्गदर्शन और संयम अनुकरणीय और उदाहरणीय था। वर्ष 2007-12 में विधानसभा के अध्यक्ष के रूप में कपूर साहब ने अपनी अमिट छाप छोड़ी, श्री अग्रवाल ने कहा कि उनके पद चिन्हों पर ही चलकर  वो विधान सभा का संचालन कर रहे हैं। श्री अग्रवाल ने उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी सांत्वना व्यक्त की।
इस अवसर पर विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल ने कहा कि कपूर साहब विधानसभा अध्यक्ष के पद पर रहते हुए बहुत ही शालीन एवं सहजता से विधानसभा के कर्मीको का ख्याल रखते थे, विधानसभा सत्रों में सदन संचालन के दौरान पक्ष एवं विपक्ष को साथ लेकर चलते थे। विधानसभा अध्यक्ष रहते हुए उनके कार्यकाल को विधानसभा के कार्मिक कभी भी भुला नहीं पाएंगे। इस अवसर पर प्रभारी सचिव मुकेश सिंगल, उप सचिव नरेंद्र रावत, उपसचिव चंद्र मोहन गोस्वामी, प्रमुख निजी सचिव अजय अग्रवाल, उपसचिव हेम पंत, व्यवस्था अधिकारी दीपचंद, राजेश उनियाल, रवि बिष्ट, कपिल धोनी, सुंदर लाल, अर्जुन साही, मार्शल लक्ष्मण रावत, बंदना हरिव्यासी, पूरन सिंह राणा सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Check Also

आईपीएल की आलोचना पर भड़के गौतम गंभीर, बोले- टीम खराब खेल रही तो खिलाड़ी जिम्मेदार, लीग नहीं

गंभीर ने एक अवॉर्ड समारोह में कहा कि खराब प्रदर्शन के लिए आईपीएल को जिम्मेदार …