Breaking News
Home / International News / श्रीलंका संकट: हिंसा में 8 लोगों की मौत, नेताओं के घर आग के हवाले; 5 पॉइंट्स में समझें हाल

श्रीलंका संकट: हिंसा में 8 लोगों की मौत, नेताओं के घर आग के हवाले; 5 पॉइंट्स में समझें हाल

Sri Lanka Crisis: रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को थल सेना, वायुसेना और नौसेना कर्मियों को सार्वजनिक संपत्ति को लूटने या आम लोगों को चोट पहुंचाने वाले किसी भी दंगाई को गोली मारने का आदेश दिया।

श्रीलंका में जारी आर्थिक संकट और प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के इस्तीफे के बाद हालात और बिगड़ते नजर आ रहे हैं। खबर है कि राजपक्षे को गिरफ्तार करने की मांग उठ रही है। पूर्व पीएम पर हिंसा भड़काने के आरोप हैं, जिसमें कम से कम 8 लोगों की मौत हो चुकी है। सोमवार को प्रदर्शनकारियों ने कई नेताओं की संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया।

रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को थल सेना, वायुसेना और नौसेना कर्मियों को सार्वजनिक संपत्ति को लूटने या आम लोगों को चोट पहुंचाने वाले किसी भी दंगाई को गोली मारने का आदेश दिया। राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे द्वारा लोगों से ‘हिंसा और बदले की भावना वाले कृत्य’ रोकने की अपील के बाद मंत्रालय का यह आदेश सामने आया है।

5 पॉइंट्स में समझें श्रीलंका के हाल
– 
महिंदा राजपक्षे के समर्थकों और सरकार के विरोधियों के बीच झड़प हुई। श्रीलंका सरकार ने देशभर में कर्फ्यू लगा दिया है। वहीं, राजधानी कोलंबो में जवानों की तैनाती की गई है। राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे ने मंगलवार को लोगों से हिंसा और बदले की कार्रवाई रोकने की अपील की। साथ ही उन्होंने नागरिकों से राजनीतिक और आर्थिक संकट को सुलझाने की कसम खाई।

– सोमवार को प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के इस्तीफा देने के कुछ ही घंटों बाद सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों ने उनके पैतृक आवास में लगा लगा दी। इतना ही नहीं, आक्रोशित प्रदर्शनकारियों ने उनके सरकारी आवास में भी घुसने और इसे नुकसान पहुंचाने की भरपूर कोशिशें कीं। यह सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहा जब हजारों प्रदर्शनकारियों ने पूर्व प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के सरकारी आवास के मुख्य द्वार को तोड़कर अंदर घुसने की कोशिश की जिसके बाद हथियारों से लैस सैनिकों ने तत्काल कार्रवाई करते हुए श्री राजपक्षे और उनके परिवार को सुरक्षित बाहर निकाला।

– श्रीलंका में जारी जन आक्रोश के कारण लगाये गये देशव्यापी कर्फ्यू के बाद मंगलवार को कोलंबो स्टॉक बाजार को बंद कर दिया गया। स्टॉक बाजार की ओर से जारी बयान में कहा गया कि उन्हें यह सूचना दी गयी कि सेंट्रल बैंक का रियल टाइम ग्रॉस सेटेलमेंट सस्टिम मंगलवार को काम नहीं करेगा। इसके कारण स्टॉक बाजार में केंद्रीय जमा तंत्र फंड के सेटलमेंट और प्रतिभूतियों के सेटलमेंट का काम भी नहीं हो पायेगा।

– प्रदर्शनकारियों ने ‘टेंपल ट्री’ निवास में घुसने के बाद, जहां पूर्व प्रधानमंत्री अपने परिवार के साथ छिपे हुए थे, वहां हमला करने की कोशिश की, जिसके बाद सुरक्षा बलों ने भीड़ को काबू में करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे तथा हवा में गोलियां चलाईं। पूर्व प्रधानमंत्री के आवासीय परिसर में कम से कम दस पेट्रोल बम फेंका गया, हालांकि सेना ने उन्हें और उनके परिवार को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। फिलहाल, श्री राजपक्षे अपने परिवार सहित एक गुप्त स्थान हैं। 

– श्रीलंका में सरकार विरोधी हिंसक प्रदर्शनों के बीच राष्ट्रपति राजपक्षे की प्रमुख ज्योतिष के यहां अनुराधापुरा स्थित लक्ज़री होटल को भी आग के हवाले कर दिया। इतना ही नहीं, प्रदर्शनकारियों ने सत्तारूढ़ दल के नेताओं से जुड़ी कई अन्य संपत्तियों को भी नुकसान पहुंचाया। इसके अलावा, एमबलानगोडा के मेयर के दो होटल और एक भोजनालय पर भी हमला किया गया।

Check Also

 नेपाली कांग्रेस की बढ़त जारी, सत्तारूढ़ गठबंधन ने 40 सीटों पर हासिल की जीत

275 सदस्यों वाली संसद में नेपाली कांग्रेस को अब तक 25 सीटों पर जीत मिली …