Breaking News
Home / Uttarakhand News / सदस्यता अभियान को लक्ष्य तक पहुंचाने को कांग्रेस मुख्यालय में हुई बैठक

सदस्यता अभियान को लक्ष्य तक पहुंचाने को कांग्रेस मुख्यालय में हुई बैठक

देहरादून । उत्तराखण्ड कांग्रेस मुख्यालय में सदस्यता अभियान की महत्वपूर्ण बैठक सम्पन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता ए0पी0आर0ओ0 मनोज भारद्वाज ने की। बैठक में सदस्यता अभियान के अध्यक्ष राजेन्द्र भण्डारी ने सभी प्रभारियों का स्वागत किया एवं उन्हें अभियान के उदेश्य रणनीति और लक्ष्य से अवगत कराया। बैठक में विधानसभावार और जिलेवार प्रभारियों ने प्रतिभाग किया। बैठक का मुख्य मुद्धा प्रदेश में गतिमान सदस्यता अभियान को सुगम और लक्ष्य तक पहुॅचाना था। बैठक को सभी प्रभारियों ने सम्बोधित किया। प्रभारियों ने सदस्यता अभियान के अर्न्तगत आने वाली व्यवाहरिक दिक्कतों से ए0पी0आर0ओ0 को अवगत कराया। बैठक के दौरान चुनाव में मिली शिकस्त पर भी चर्चा हुई कंाग्रेस पार्टी को इस चुनौती पूर्ण समय में संगठन के भीतर ढॉचागत बदलाव की जरूरत है ऐसा सभी सदस्यों का मानना था। बैठक के दौरान भावी रणनीति पर भी गहन विचार विमर्श हुआ। सदस्यता अभियान को लक्ष्य तक पहुॅचाने के लिए सभी प्रभारियों ने सकंल्प लिया। परन्तु अभियान को सफल बनाने के लिए बूथ और ब्लॉक स्तर की मजबूती पर सब एक मत दिखाई दिये।
विदित हो की उत्तराखण्ड कांग्रेस ने 16 सितम्बर 2021 को अपने सदस्यता अभियान के पहले चरण का  आगाज कर दिया था जिसके तहत प्रदेश की 70 विधानसभाओं में जिला संगठन एवं ब्लॉक संगठन के नेतृत्व में गांव गांव शहर शहर सदस्यता कार्यक्रम चलाने के लिए बैठके की गई। लगातार जिलेवार और ब्लॉकवार इस कार्यक्रम को गतिमान रखा गया। 15 दिन तक चले इस कार्यक्रम के उपरान्त दुर्भाग्यवश प्रदेश में दैवीय आपदा के चलते सदस्यता अभियान बाधित रहा। नवम्बर माह से एक बार पुनः वर्कशाप्स का आयोजन किया गया जिसके माध्यम से प्रभारियों को कार्यक्रम की जानकारी और रणनीति से अवगत कराया गया। चुकिं चुनाव सम्पन्न हुये काफी समय हो चुका है ऐसे में पुनः डिजीटल सदस्यता से शुरूआत की जा रही है। उत्तराखण्ड के लिए इसका लक्ष्य 10 लाख नये सदस्य बनाना रखा गया है।
अप्रैल के पहले सप्ताह में दुसरे चरण की समाप्ति के बाद बूथ स्तर पर प्रत्येक बूथ पर एक क्रियाशील सदस्य बनाना होगा। इन क्रियाशील सदस्यों में से ही ब्लॉक अध्यक्ष का चुनाव होगा तद्उपरान्त जिलाध्यक्षों का चुनाव किया जाएगा। प्रत्येक संगठनात्मक ब्लॉक से एक पीसीसी सदस्य का चुनाव किया जाएगा। इसी कडी में अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (एआईसीसी) सदस्य चुने जाएगें। और विधिवत प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव किया जाएगा। इस प्रक्रिया के बाद प्रदेश से चुने हुए डेलिगेटस राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव में हिस्सा लेगें। यह पूरी प्रक्रिया संभवत् अगस्त माह 2022 तक पूर्ण कर ली जाएगी। बैठक में प्रमुखतः सुरेन्द्र रांगड, याकूब सिद्धिकि, नवीन जोशी, सुरेन्द्र सिंह रावत, कविन्द्र इस्टवाल, गरिमा महरा दसौनी, परिणीता बडोनी, सुलेमान अली, रघुवीर सिंह राणा, राजेन्द्र सिंह दानू, कमलेश रमन, डॉ0 इकबाल सिद्धिकि आदि मौजूद रहे।

Check Also

विद्यालयों में एकल शिक्षक व्यवस्था होगी समाप्त, प्रत्येक 15 दिन में होगी आंतरिक परीक्षा

प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। राजकीय …