Breaking News
Home / Uttarakhand News / विधानसभा चुनाव के लिए तैनात जोनल व सैक्टर अधिकारियों का प्रथम प्रशिक्षण शुरु

विधानसभा चुनाव के लिए तैनात जोनल व सैक्टर अधिकारियों का प्रथम प्रशिक्षण शुरु

देहरादून । नगर निगम सभागार देहरादून में नगर आयुक्त व नोडल अधिकारी आदर्श आचार सहिंता अभिषेक रोहिला, अपर जिलाधिकारी व वित्त एवं राजस्व/नोडल अधिकारी कार्मिक एवं प्रशिक्षण के.के. मिश्रा और अपर जिलाधिकारी प्रशासन व नोडल अधिकारी वलनरेबिलिटी मैपिंग डॉ0 एस.के. बरनवाल की संयुक्त अध्यक्षता में विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 हेतु तैनात किये गये जोनल अधिकारियों, सैक्टर मजिस्ट्रेटों और सैक्टर पुलिस अधिकारियों का प्रथम प्रशिक्षण प्रारंभ हुआ।
प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर जिला पंचायतीराज अधिकारी एम.एम खान, सेवायोजन अधिकारी प्रवीन गोस्वामी, वरिष्ठ परियोजना अधिकारी उरेड़ा अखिलेश शर्मा, खण्ड शिक्षा अधिकारी सहसपुर पंकज शर्मा, उप प्रधानाचार्य नवोदय विद्यालय गिरिश थपलियाल और सहायक संख्याधिकारी डीआरडीए राजीव शुक्ला ने सभी जोनल व सैक्टर अधिकारियों को प्रशिक्षण प्रदान किया तथा निर्वाचन प्रक्रिया में ध्यान रखने वाली जरूरी बातों, बिन्दुओं, अनुभवों को बारीकी से बताते हुए प्रभावशाली उदाहरण के माध्यम से प्रस्तुत किया तथा प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे अधिकारियों की शंका का समाधान किया।
प्रशिक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व/नोडल अधिकारी कार्मिक एवं प्रशिक्षण के.के. मिश्रा ने प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे अधिकारियों को बताया कि सभी अधिकारी अपने-अपने निर्धारित क्षेत्र में बूथ का भौतिक अवलोकन करेंगे तथा वहाँ पर स्थलीय धरातल के अनुरूप जो भी व्यावहारिक अथवा किसी भी तरह के सुधार की गंुजाईश होगी तो उससे तत्काल अवगत करा देंगे ताकि समय रहते उनमें सुधार किया जा सके। उन्होंने सभी को एक टीम वर्क के रूप में आपसी समन्वय से कार्य करते हुए चुनाव को पारदर्शिता, स्वतन्त्रता और व्यवस्थित तरिके से संपादित करने को कहा।
इस दौरान अपर जिलाधिकारी प्रशासन तथा नोडल अधिकारी वलनरेबिलिटी डॉ0 एस.के. बरनवाल ने सभी जोनल व सैक्टर अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी अधिकारी 2 दिन के भीतर अपने अधीन सभी मतदान केन्द्रों का निरीक्षण कर लेंगे तथा वहाँ पर भवन की स्थिति, पेयजल, शौचालय, रैंप, विद्युत, मोबाइल कनेक्टिबिटी, शेड, आवश्यक फर्नीचर, सुगम आवागमन, सुरक्षा इत्यादि संबंधित एएमएफ (एश्योर्ड मिनिमम फैसिलिटी) अर्थात बुनियादी सुविधाओं की निर्धारित प्रारूप में सूचना उपलब्ध कराएंगे। इस दौरान नगर निगम सभागार हॉल में जनपद की 10 विधानसभाओं हेतु तैनात 37 जोनल मजिस्ट्रेट और 218 सैक्टर अधिकारियों को आज प्रशिक्षण प्रदान किया गया।

Check Also

विद्यालयों में एकल शिक्षक व्यवस्था होगी समाप्त, प्रत्येक 15 दिन में होगी आंतरिक परीक्षा

प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। राजकीय …