Breaking News
Home / Uttarakhand News / कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए डीएम ने अधिकारियों को दिए निर्देश

कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए डीएम ने अधिकारियों को दिए निर्देश

देहरादून । कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए जिलाधिकारी डाॅ0 आर राजेश कुमार ने जिलाधिकारी शिविर कार्यालय से वर्चुअल माध्यम से आयोजित बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी, नगर मजिस्टेªट, समस्त उप जिलाधिकारियों, पुलिस एवं सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
जिलाधिकारी ने समस्त उप जिलाधिकारियों एवं पुलिस क्षेत्राधिकारियों को उनके क्षेत्र अन्तर्गत सीमा चैक पोस्ट  पर जनपद में अन्य राज्यों से जनपद में प्रवेश करने वाले व्यक्तियों की थर्मल स्क्रीनिंग एवं सैम्पलिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि संक्रमित पाये जाने वाले व्यक्ति के सम्पर्क आये व्यक्तियों की टैªसिंग के साथ ही यात्रा विवरण ेकी भी पूर्ण जानकारी रखी जाए ताकि संक्रमण के प्रसार को बढने से रोका जा सके। उन्होंने समस्त उप जिलाधिकारीयों से अपने-अपने क्षेत्रों में सार्वजनिक स्थानों एवं बाजारों में मास्क का उपयोग एवं सरकार द्वारा जारी कोविड गाईडल लाईन्स का पालन करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को जनपद में सैम्पलिंग बढाने के साथ ही चिकित्सालयों में उपचार से सम्बन्धित सभी व्यवस्थाएं सक्रिय रखने तथा चिकित्सालयों में स्थापित आक्सीजन प्लांट कार्य स्थिति भी जांच करें दिए ताकि किसी भी स्थिति से समय पर निपटा जा सके। साथ सभी चिकित्सालयों में कोविड उपचार को लेकर व्यवस्थाओं को सुचारू रखने एवं कोविड जांच हेतु अलग से काउन्टर बनाने एवं आर.टी.पी.सी.आर एवं रेपिड एन्टिजन टैस्टिंग बढाने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को जनपद की सभी सीमा चैक पोस्टों पर आरटीपीसीआर एवं रैपिड एन्टिजन टैस्ट करवाने हेतु स्वाथ्य टीम भेजने एवं सम्बन्धित पुलिस क्षेत्राधिकारियों को चिकित्सा टीम के साथ सैम्पलिंग प्वांईट पर व्यवस्था बनाने हेतु पुलिस एवं होमगार्ड के जवान तैनात करने के निर्देश दिए। वर्चुअल बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ मनोज कुमार उप्रेती, नगर मजिस्टेªट, समस्त उप जिलाधिकारी एवं पुलिस विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

Check Also

विद्यालयों में एकल शिक्षक व्यवस्था होगी समाप्त, प्रत्येक 15 दिन में होगी आंतरिक परीक्षा

प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। राजकीय …