Breaking News
Home / Uttarakhand News / विधानसभा चुनाव के लिए नियुक्त किए गए नोडल अधिकारियों को डीएम ने दिए दिशा-निर्देश

विधानसभा चुनाव के लिए नियुक्त किए गए नोडल अधिकारियों को डीएम ने दिए दिशा-निर्देश

देहरादून । जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ0 आर राजेश कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट के ऋषिपर्णा सभागार में आगामी विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 को सकुशल और व्यवस्थित तरीके से संपादित करने के लिए जनपद में विभिन्न दायित्वों को संपादित करने के लिए नियुक्त किये गये नोडल अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक आयोजित की गयी।
बैठक में जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारियों से उनके दायित्वों के बारे में जानकारी प्राप्त करते हुए सभी को समय रहते अपने से संबंधित दायित्वों को संपादित करने के निर्देश दिए। उन्होंने विधानसभा चुनाव से संबंधित ऐसे सभी कार्यों को पहले से ही पूर्ण करने को कहा जो कार्य आचार संहिता से पहले पूरे किए जा सकते हैं। लोगों की चुनाव में सकारात्मक और बढ़-चढ़कर भागीदारी सुनिश्चित करने से संबंधित स्वीप (मतदाता जागरूकता अभियान) अभियान, कार्मिकों की नियुक्ति व उनका प्रशिक्षण, मतदान केन्द्रों का विभिन्न श्रेणी में निर्धारण और उसी अनुरूप न्यूनतम व्यवस्था स्थापित करने, सामान-सामग्री की टेंडरिंग प्रक्रिया, नये-पुराने व स्थानान्तरित मतदाताओं से संबंधित अधतन विवरण तथा उसकी ऑनलाइन डाटा फिडिंग तथा अन्य सभी ऐसी व्यवस्था जिसे आचार संहिता से पूर्व किया जाना है, उसकों तत्काल पूर्ण करेें।
उन्होंने सभी विधानसभाओं में निर्वाचन अधिकारियों को मतदान केन्द्रों के वर्गीकरण, कम्यूनिकेशन की स्थिति, वहाँ पर रैम्प, पेयजल व्यवस्था इत्यादि का कार्य प्राथमिकता से पूर्ण करने को कहा तथा पुलिस विभाग के समन्वय से जिला निर्वाचन कार्यालय को संबंधित सूचना को प्रेषित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जनपद में ’डिस्ट्रिक्ट इलैक्शन मैनेजमेन्ट प्लान’ तैयार किया जा रहा है उसके लिए सभी नोडल अधिकारी अपने से संबंधित डेटा निर्वाचन कार्यालय को शीघ्रता से प्रेषित करें।
जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारी स्वीप को विभिन्न माध्यम से लगातार मतदान प्रक्रिया से मतदाताओं को जोड़ने हेतु प्रेरित करने, मुख्य चिकित्सा अधिकारी को चुनाव ड्यूटी में लगने वाले कार्मिकों में से ऐसे कार्मिक जो कोविड वैक्सीनेशन की दूसरी डोज लगाने से वचिंत है तो उनको अनिवार्य रूप से डबल डोज पूर्ण करवाने के साथ ही नगर निकायों के समन्वय से निर्वाचन के दौरान बायोमेडिकल वेस्ट मैनेजमेन्ट का  कोविड-19 से मानक के अन्तर्गत समाधान हेतु कार्य योजना बनाने को कहा। इस दौरान बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल, नगर आयुक्त नगर निगम अभिषेक रोहिला, अपर जिलाधिकारी प्रशासन एस.के. बरनवाल, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व के.के. मिश्रा, जिला विकास अधिकारी एस. एम डोभाल, नगर मजिस्ट्रेट कुश्म चौहान, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 मनोज उप्रेती, मुख्य कोषाधिकारी रोमिल चौधरी, उपमहानिरीक्षक स्टाम्प अरूण प्रताप सिंह, संबंधित विधानसभाओं के उपजिलाधिकारी और अन्य नोडल अधिकारी उपस्थित थे।

Check Also

विद्यालयों में एकल शिक्षक व्यवस्था होगी समाप्त, प्रत्येक 15 दिन में होगी आंतरिक परीक्षा

प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। राजकीय …