Breaking News
Home / Sports / DC vs CSK: दिल्ली कैपिटल्स पर बड़ी जीत के बाद क्या अब भी प्लेऑफ में पहुंच सकती है चेन्नई सुपर किंग्स? जानिए महेंद्र सिंह धोनी का जवाब 

DC vs CSK: दिल्ली कैपिटल्स पर बड़ी जीत के बाद क्या अब भी प्लेऑफ में पहुंच सकती है चेन्नई सुपर किंग्स? जानिए महेंद्र सिंह धोनी का जवाब 

चेन्नई के 11 मैच में 8 अंक हैं और उसे अब मुंबई, हैदराबाद और लखनऊ के साथ अपने अगले मुकाबले खेलने हैं। इन सभी मैचों में सीएसके अगर जीत दर्ज करती है तो उसके 16 अंक हो जाएंगे और प्लेऑफ में पहुंच सकती है।

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इंडियन प्रीमियर लीग 2022 में रविवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 91 रन की जीत के बाद कहा कि बड़ी जीत से मदद मिलती है लेकिन अगर यह जीत सत्र में पहले मिलती को बेहतर होता। इस जीत के बाद सीएसके की टीम अभी भी प्लेऑफ में पहुंच सकती है। हालांकि अब सबकुछ अगर मगर पर निर्भर करेगा। चेन्नई के 11 मैच में 8 अंक हैं और उसे अब मुंबई इंडियंस, सनराइजर्स हैदराबाद और लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ अपने अगले मुकाबले खेलने हैं।

इन सभी मैचों में धोनी की टीम अगर जीत दर्ज करती है तो उसके 16 अंक हो जाएंगे और प्लेऑफ में पहुंचने की उसकी उम्मीदें कायम रहेगी। हालांकि टीम अगर एक भी मैच में हारती है तो फिर वह टूर्नामेंट से बाहर हो जाएगी। इस समय अभी दो टीमों के 16-16 और दो के 14-14 अंक है।

CSK vs DC: सीएसके की जीत से हुआ केकेआर को नुकसान, 91 रनों के बड़े अंतर से हारी दिल्ली

प्लेऑफ में पहुंचने के समीकरण को लेकर चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा, ‘मैं गणित का बहुत बड़ा फैन नहीं हूं। स्कूल में भी मैं इसमें अच्छा नहीं था। रन रेट के बारे में सोचने से मदद नहीं मिलती है। जब दो अन्य टीमें खेल रही हों, तो आप दबाव और सोच में नहीं रहना चाहते। आपको बस यह सोचना है कि अगले गेम में क्या करना है। अगर हम प्लेऑफ में जगह बनाते हैं, तो बढ़िया। लेकिन अगर हम न भी करें तो यह दुनिया खत्म नहीं हो जाएगी।’

सुपर किंग्स के लिए डेवोन कॉनवे ने 49 गेंद में पांच छक्कों और सात चौकों की मदद से 87 रन की पारी खेली। उन्होंने ऋतुराज गायकवाड़ (41) के साथ पहले विकेट के लिए 110 रन जबकि शिवम दुबे (32) के साथ दूसरे विकेट के लिए 59 रन की साझेदारी की जिससे टीम ने छह विकेट पर 208 रन बनाए।

धोनी ने जीत के बाद कहा, ‘बड़े अंतर से जीत दर्ज करने से मदद मिली है लेकिन बेहतर होता अगर यह जीत पहले मिलती। यह हालांकि परफेक्ट मैच रहा। बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया। मैं टॉस जीतना चाहता था और पहले क्षेत्ररक्षण करना चाहता था लेकिन यह इस तरह का मैच था जहां आप टॉस हारना चाहते हो। सलामी बल्लेबाजों ने अच्छा मंच तैयार किया जिससे मदद मिली। हमें सुनिश्चित करना था कि उनके बड़े हिटर लय में नहीं आएं। सिमरजीत और मुकेश ने परिपक्व होने में समय लिया है, सभी खिलाड़ी अपना समय लेते हैं।’ 

Check Also

 मैनचेस्टर यूनाइटेड को बेचने के लिए तैयार है ग्लेजर फैमिली, खरीदारों की तलाश जारी

मैनचेस्टर यूनाइटेड के क्लब से क्रिस्टियानो रोनाल्डो अलग हो चुके हैं। इसके साथ ही क्लब …