Breaking News
Home / Uttarakhand News / सरकार की तानाशाही के खिलाफ कांग्रेस का उपवास

सरकार की तानाशाही के खिलाफ कांग्रेस का उपवास

देहरादून। भाजपा सरकार की तानाशाही के विरोध में कांग्रेस ने प्रदेश कार्यालय में किया सांकेतिक उपवास रखा। भाजपा सरकार में मंत्री यशपाल आर्य के कांग्रेेस पार्टी में शामिल होने के लिए किये गये स्वागत समारोह एवं संकल्प विजय शंखनाद रैली में व्यवधान डालने व उसी दिन मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की रैली के हल्द्वानी के उसी मैदान मंे रखने के विरोध में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल बुधवार को कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के साथ सांकेतिक उपवास पर बैठे।
उपवास समापन के अवसर पर बोलते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि लोकतंत्र में सबको अपनी विचारधारा, पार्टी की नीति व कार्यक्रम करने का अधिकार होता है। परन्तु भाजपा अभी चुनाव में समय होते हुए भी प्रदेश मंें आतंक का वातावरण बनाने में लग गई है। जिस प्रकार से कांग्रेस पार्टी का पूर्व मंत्री यशपाल आर्य के कांग्रेस पार्टी में शामिल होने पर स्वागत समारोह एवं संकल्प विजय शंखनाद रैली के आयोजन में व्यवधान डालने की नीयत से मुख्यमंत्री कार्यालय से एक साजिश के तहत कार्यक्रम स्थल को मुख्यमंत्री की सभा के लिए आरक्षित किया गया तथा वहां मुख्यमंत्री की सभा रखी गई उससे स्पष्ट है कि भाजपा लोकतांत्रिक मूल्यों पर विश्वास नहीं रखती है। भाजपा द्वारा चुनाव से पूर्व ही सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग कर विपक्ष की सभाओं एवं कार्यक्रमों में व्यवधान उत्पन्न किया जा रहा है वह लोकतंत्र के लिए एक अच्छा संकेत नहीं है। इससे ऐसा लगता है कांग्रेस की लोकप्रियता का डर भाजपा से यह सबकुछ करवा रहा है। उन्होंने कहा कि हमने सभा को टकराव व तनावपूर्ण वातावरण को बचाने के लिए प्रशासन के आग्रह पर स्थगित किया है। हम चाहते हैं कि लोकतंत्र में अपनी नीति व कार्यक्रम तथा विचारों को जनता तक एक मर्यादित होकर पहुंचाने का सभी को अधिकार है और संसदीय लोकतंत्र की राजनीति मंें किसी भी तरह के टकराव व तनाव से बचा जाना चाहिए। परन्तु भाजपा सरकार इसे हमारी कमजोरी न समझे हम टकराव से घबराने वाले भी नहीं हैं। कांग्रेस पार्टी गांधीवादी मूल्यों में विश्वास करते हुए शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात जनता तक पहुंचाना चाहती है।
वहीं गणेश गोदियाल ने घर-घर भाजपा के स्लोगन पर भी कटाक्ष करते हुए कहा कि भाजपा सरकार को घर-घर मंहगाई को कम करने, घर-घर हमारी माताओं-बहिनों की रसोई मंे संकट को कम करने के लिए गैस का सिलेण्डर पहुंचाना चाहिए। घर-घर युवाओं को रोजगार देना चाहिए, घर-घर शिक्षा व स्वास्थ्य सेवायें पहुंचानी चाहिए तो बेहतर होता। परन्तु उन्हें साढे चार वर्ष तक सत्ता का सुख भोगते हुए जनता की याद नहीं आई परन्तु अब चुनाव नजदीक आते ही उन्हें जनता के घर-घर जाने की याद आ रही है। उन्होंने भाजपा सरकार पर खनन प्रेमी होने का भी आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले 100 दिन में कितने खनन के पट्टे सरकार ने जारी किये सरकार को प्रदेश की जनता को बताना चाहिए अन्यथा कांग्रेस पार्टी बतायेगी कि किस-किस को कितने पट्टे दिये गये।
कार्यक्रम में पूर्व मंत्री हीरा सिह बिष्ट, दिनेश अग्रवाल, मातवर सिंह कण्डारी, प्रदेश उपाध्यक्ष एवं मीडिया सलाहकार सुरेन्द्र कुमार, प्रदेश महामंत्री संगठन एवं वरिष्ठ प्रवक्ता मथुरादत्त जोशी, नवीन जोशी, गोदावरी थापली, पी.के. अग्रवाल, राजेन्द्र भण्डारी, पूर्व विधायक राजकुमार, प्रभुलाल बहुगुणा, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, गुलजार अहमद, राजेश चमोली, सुरेन्द्र रांगड, आशा टम्टा, राजेश शर्मा, कार्यालय सचिव ओमप्रकाश सती, राजीव जैन, आशा मनोरमा डोबरियाल शर्मा, कै0 बलवीर सिंह रावत, राकेश नेगी, लक्ष्मी अग्रवाल, कमलेश रमन, पुष्पा पंवार, अशोक वर्मा, संजय शर्मा, सुलेमान अली, नरेशानन्द नौटियाल, संजय कुमार कनौजिया, अनिल नेगी, मनीष नागपाल, ललित भद्री, मोहन काला, अमरजीत सिंह, विशाल मौर्य, अमित भण्डारी, विरेन्द्र पोखरियाल, विजेन्द्र पाल, सुधीर सुनेहरा, महेन्द्र रावत, आशीष कंडवाल, दानिश कुरैशी, अरूण शर्मा, दिवाकर चमोली, जगदीश धीमान, सुमित्रा ध्यानी, सावित्री थापा, महेश जोशी, जितेन्द्र बिश्ट, मदन लाल, विमला मन्हास, ललिता देवी, निशा रानी, ममता बसनेत, अनुराधा तिवारी, संगीता देवी, अभिनव थापर, हुकम सिंह गडिया, आदर्श सूद, सजय बहादुर, आशीष नौटियाल, बिल्लू थापली, अर्जुन सोनकर, राकेश रावत, अभिषेक चमोली, मंजू चौधरी आदि अनेक कांग्रेसजन उपस्थित थे।

Check Also

Uttarakhand@25: आज से चार दिन मसूरी में चिंतन करेगी धामी सरकार, विकास का रोडमैप होगा तैयार

चिंतन शिविर मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी में होगा। शिविर में सीएम …