Breaking News
Home / Uttarakhand News / विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने सरकारी सुविधाओं का किया परित्याग

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने सरकारी सुविधाओं का किया परित्याग

ऋषिकेश । विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने आज सरकारी प्रोटोकॉल के अनुसार उनको मिली सरकारी सुविधाओं का परित्याग करते हुए अपने समस्त स्टाफ का बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर पुष्प माला पहनाकर आभार व्यक्त किया और कहा है कि उनके साथ बिताए गए 5 साल हमेशा याद रहेंगे। इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने कहा है कि विधानसभा अध्यक्ष रहते हुए स्टाफ के तमाम लोगों ने उनको कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया और जो भी ऋषिकेश विधानसभा में विकास के कार्य हो या उत्तराखंड विधानसभा में सदन संचालन से संबंधित कार्रवाई हो उसमें उनके स्टाफ का विशेष योगदान रहा है।
उन्होंने कहा कि इन 5 सालों में अपने निजी स्टाफ के साथ बिताए गए समय को हमेशा याद किया जाएगा। उन्होंने सभी स्टाफ को अपनी शुभकामनाएं दी और कहा कि वो जीवन में जहां भी रहे वहां अपने कार्य व मेहनत के बल पर अपना मुकाम हासिल करेंगे। विगत 5 वर्षों में पुलिस एस्कॉर्ट का संचालित करने वाले सब इंस्पेक्टर गिरीश चंद रावत ने कहा है कि प्रेमचंद अग्रवाल से अनेक बातें सीखने को मिली है। उन्होंने कहा है कि समय व वस्तुओं का सदुपयोग कैसे किया जाए यह सब बातें उनसे सीखने को मिली है। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष के जनसंपर्क अधिकारी राजेश थपलियाल ने कहा है कि श्री अग्रवाल के साथ नए नए काम सीखने का अवसर प्राप्त हुआ उनके द्वारा किया गया मार्गदर्शन भविष्य में भी काम आएगा।
जनसंपर्क अधिकारी कौशल बिजलवान ने कहा है कि वैसे तो विधानसभा अध्यक्ष से लंबे समय से परिचय है लेकिन विधानसभा के अध्यक्ष के तौर पर उनके साथ का अनुभव जीवन में हम सभी का मार्गदर्शन करता रहेगा। इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने विधानसभा के समस्त स्टाफ को शॉल, पुष्पमाला एवं आयुर्वेदिक कीट भेंट कर सम्मानित किया और कहा है कि उनके साथ बिताए गया समय हमेशा याद रहेगा। इस अवसर पर जनसंपर्क अधिकारी राजेश थपलियाल कौशल बिजलवान, धनंजय नौटियाल, गिरीश चंद रावत, मनोज नैनवाल, दिनेश प्रसाद नौटियाल, गौरव राणा, दीपक नेगी, भूपेंद्र कुमार, भूपेंद्र सिंह अनिल रयाल, मुकेश दयाल, प्रमोद रयाल, कुलदीप रौथान, महावीर बुटोला, के,एस राणा आदि सहित अनेक कर्मचारी गण उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन भारत चौहान ने किया।

Check Also

विद्यालयों में एकल शिक्षक व्यवस्था होगी समाप्त, प्रत्येक 15 दिन में होगी आंतरिक परीक्षा

प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा की दशा सुधारने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। राजकीय …