मानसून का स्वागत…नैनीताल से सैलानियों की विदाई शुरू, इस पर्यटन सीजन में पांच लाख लोग पहुंचे

Uttarakhand

मानसून की शुरूआत होने के साथ ही यहां ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन में बड़ी तादाद में देश विदेश से पहुंचे सैलानी अब लौटने लगे हैं। इस पीक सीजन में शहर और इसके आसपास करीब पांच लाख पर्यटक पहुंचे हैं।

मानसून की शुरूआत होने के साथ ही यहां ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन में बड़ी तादाद में देश विदेश से पहुंचे सैलानी अब लौटने लगे हैं। इस पीक सीजन में शहर और इसके आसपास करीब पांच लाख पर्यटक पहुंचे हैं। इस वीकेंड के बाद नैनीताल के अधिकतर होटल व होम स्टे में 30 से 40 फीसदी तक की छूट दी जाएगी।

ग्रीष्मकाल में जैसे जैसे शहरों में गर्मी बढ़ती रही उसी के साथ हिल स्टेशनों की ओर सैलानियों की संख्या भी बढ़ती गई। ऐसे में नैनीताल के साथ ही भीमताल, भवाली, सातताल, नौकुचियाताल आदि पर्यटन क्षेत्रों मेें सैलानी पहुंचते रहे। शहर में 15 अप्रैल से 30 जून तक पीक सीजन चलता है। ऐसे में यहां होटलों व होम स्टे के रेट बढ़ जाते हैं। इस सीजन में 2500 से 15000 तक के कमरे मिलते हैं। शहर में करीब 320 होटल व होम स्टे पंजीकृत है। इन होटलों के साथ ही अवैध रूप से संचालित होटल व होम स्टे पैक रहते हैं। जुलाई के बाद नैनीताल शहर में ऑफ सीजन शुरू हो जाता है। पर्यटक नहीं पहुंचने के चलते होटल व होम स्टे संचालक 30 से 40 फीसदी तक कमरे के किराए में छूट देते हैं।